होटल क्या है, Hotel meaning in Hindi

यदि कोई व्यक्ति अपने निवास स्थान से कहीं दूर जाता है तो इस condition में होटल हर किसी के लिए एक best option साबित होता है शायद आपनें भी बहुत बार होटल का इस्तेमाल किया हो क्यूंकि हर किसी को कई बार कुछ कार्यों से travel करना पड़ता है, हालाँकि हम travelling के दौरान वाहन में होते हैं लेकिन उसके बाद हमें ठहरनें के लिए एक ऐसे place की जरुरत होती है जहाँ हम आराम कर सकें सो सकें इत्यादि, Hotel kya hai, Hotel meaning in Hindi.

तो हमें आस पास में बहुत आसानीं से होटल मिल जाते हैं, होटल का तात्पर्य एक building या कुछ rooms के collection को कहते हैं जोकि लोगों को rent पर दिए जाते हैं हालाँकि सभी होटल के rates अलग अलग होते हैं।

होटल के rooms का rent normal घर के room के rent से अधिक होता है वैसे तो हर किसी को होटल के बारे में basic जानकारियां होती हैं फिर चाहे वो कभी कहीं travel किया हो ना किया हो ।

hotel kya hai

Hotel kya hai meaning in Hindi

होटल उन building, या कुछ rooms के house को कहा जाता है जोकि लोगों को rent पर दिया जाता है और वहां रखरखाव और services के लिए staff रहता है, होटल के कमरे लोग एक mostly एक short period के लिए book करते हैं होटल की खासियत ये होती है की आपको एक दिन के लिए भी room मिल जाता है या फिर चाहें तो अधिक दिनों के लिए भी room book कर सकते हैं, hotel meaning hindi अस्थाई रूप से रहने और खाने का स्थान होता है।

बहुत सी ऐसी building भी होती हैं जिनमें लोगों को किराये पर room दिए जाते हैं लेकिन उनमें कोई staff नहीं रहता है और कोई services भी available नहीं होती हैं बस room दिए जाते हैं और बाकी सब खुद से manage करना होता है और इनकी कीमत होटल के rooms के मुकाबले बहुत कम होती है और इस तरह की buildings में short period के लिए rooms नहीं मिलते हैं बल्कि इस तरह की buildings में long समय के लिए room किराये पर दिए जाते हैं।

लेकिन होटल की सबसे बड़ी खासियत होती है होटल में होटल staff 24 मौजूद रहते हैं और जब चाहें room ले सकते हैं और जब चाहें checkout कर सकते हैं कम से कम समय के लिए भी इनमें rooms मिलते हैं और लम्बे समय के लिए, होटल बहुत प्रकार के होते हैं और उनमें विभिन्न प्रकार की services available होती हैं और उसकी services के अनुसार ही उसका rent भी प्रभावित होता है।

ट्रैवलर्स के लिए सूटेबल

वैसे तो हर किसी के लिए होटल best होते हैं क्यूंकि होटल में विभिन्न प्रकार की services मौजूद होती हैं लेकिन यदि कोई job करनें जाता है तो लम्बे समय के लिए होटल का खर्च नहीं उठा सकता है क्यूंकि normal rooms के मुकाबले होटल काफी ज्यादा खर्चीले होते हैं।

यहाँ तक की सबसे सस्ते होटल की बात की जाये तो वो भी एक employee के लिए suitable नहीं है क्यूंकि एक सामान्य job करनें वाले व्यक्ति की salary लगभग 8000 – 20000 INR होती है और यदि सबसे सस्ते होटल की बात की जाये तो भी per day का rent कम से कम 300 INR होता है और इस तरह के सस्ते होटल बहुत कम ही होते हैं।

तो ऐसे में तो उस व्यक्ति की पूरी salary rent में ही ख़त्म हो सकती है तो employees के लिए होटल नहीं बल्कि long term rooms best होते हैं जोकि सस्ते दामों में मिल जाते हैं, और travellers के लिए होटल best होते हैं क्यूंकि जब चाहे check in करो और जब चाहे checkout करो।

सबसे पुराना होटल

हालाँकि दुनिया में बहुत से होटल बहुत बार बहुत पहले बने होंगें लेकिन exactly ये कहना मुश्किल है की सबसे पहले कौन सा होटल बना होगा और उसका क्या name रहा होगा क्यूंकि अक्सर होटल start होते रहते हैं और बहुत से होटल बंद भी हो जाते हैं क्यूंकि वो अपना कारोबार नहीं कर पाते हैं लेकिन दुनिया का सबसे पुराना होटल जोकि मौजूदा समय में मौजूद है वो है Nishiyama Onsen Keiunkan (Japan)

और ये होटल Guinness World Record में दर्ज है, हम axactly ये नहीं कह सकते हैं की इस होटल के बनने से पहले कोई होटल था या नहीं, “हो सकता है की रहे भी हों और कुछ ही समय में बंद हो गए हैं कुछ भी हो सकत है” लेकिन Nishiyama Onsen Keiunkan दुनिया का सबसे पुराण होटल है जोकि अभी भी मौजूद है।

होटल staff

यदि बात हो rooms या किसी ऐसी normal building की जो long term होती हैं उसमें कोई भी staff नहीं होता है  और कोई खास services भी नहीं होती हैं बस सिर्फ कुछ services provide की जाती हैं जैसे की bed, water, electricity etc, और बाकी सब कुछ खुद से manage करना होता है इनमें कुछ खास serviecs नहीं provide की जाती हैं तो जाहिर सी बात है की rent तो कम ही होगा जोकि हर budget के व्यक्ति के लिए suitable रहता है हर कोई इस तरह के rooms को rent पर ले सकता है।

लेकिन जहाँ तक बात है होटल की तो इसमें होटल का पूरा staff होता है जोकि होटल को और बाकी अन्य servies को manage करते हैं और उन services के according ही उनका rent भी होता है होटल में staff का होना बहुत जरुरी भी होता है क्यूंकि मान लीजिये यदि भले ही किसी होटल में अधिक servies ना हों लेकिन फिर भी होटल staff का होना जरुरी होता है क्यूंकि होटल एक short – long term service होती है।

और होटल में हर दिन हर समय custumers check in करते हैं check out करते हैं तो इन्हें proceed करनें के लिए staff का होना जरुरी होता है ताकि custumers को rooms दिए जा सकें और उपलब्ध servies भी दी जा सकें।

होटल counter

Counter सभी होटल की common चीज होती है ये वो जगह होती है जहाँ से custumer check in कर सकते हैं check out कर सकते हैं या अन्य कोई भी पूंछताछ कर सकते हैं counter होटल के entrance में मौजूद होता है ताकि आने वाले सभी custumers को front में counter मिल जाए और आसानीं से check in कर सके या पूंछताछ कर सके।

हालाँकि अब तो online booking का option भी available है जिससे आप अपने पसंदीदा होटल में बिना वहां गए ही chek कर सकते हैं की rooms available हैं या नहीं और available होनें पर booking कर सकते हैं और होटल पहुंचकर counter पर booking detail दिखाकर entry कर सकते हैं, भले ही आप online booking कर लें लेकिन होटल counter की जरुरत पड़ती ही हैं।

होटल staff

सभी होटल में staff मौजूद होते हैं लेकिन किसी Hotel में इनकी संख्या कम या ज्यादा हो सकती है और depend करता है उनकी services पर जितनीं ज्यादा services होंगीं उतनें ही अधिक staff की जरुरत होगी।

होटल का staff अपनें custumers की लगभग सभी जरूरतों का ख्याल रखते हैं और उसी आधार पर जरुरी services provide करते हैं।

होटल कितने प्रकार के होते हैं

दुनियाभर में विभिन्न प्रकार के होटल मौजूद हैं जिनमें विभिन्न प्रकार की services मौजूद होती हैं विभिन्न प्रकार की design के साथ होटल बनाये गए होते हैं जोकि normal Hotel से start होकर vip, vvip Hotels तक के होते हैं

होटल किसी individual, company, bussinessman etc द्वरा चलाया जाता है और इसमें उनका भी budget depend करता है की वो किस प्रकार की services provide कर सकते हैं कितना अधिक best Hotel बना सकते हैं, उनकी बनावट, location services के आधार पर Hotels को विभिन्न प्रकार की श्रेणियों में बनता गया है।

Star होटल

वैसे तो होटल को usually हर कोई जानता है लेकिन अक्सर लोगों को star होटल के बारे में confusion होता है की आखिर star होटल क्या होते हैं, क्या उन Hotel में सिर्फ star लोग ही जा सकते हैं।

किसी star के साथ star जुड़ा होने का मतलब ये नहीं होता की वो होटल किसी vip, vvip इत्यादि के लिए है बल्कि उस star का मतलब उस होटल की services और quality से होता है सभी होटल अपने Hotels के साथ star अपनीं Hotel की services की according ही तय करते हैं।

star होटल 1 – 5 star तक के होते हैं जैसे जैसे Hotels अपनीं services बढ़ाते जाते हैं उनकी rating भी बढ़ती जाती है जैसे आप playstore पर apps को rate करते हैं, stars का मतलब होटल में भी उनकी quaility से ही होता है।

वैसे तो ऐसे बहुत से होटल होते हैं जोकि बिना stars के भी होते हैं हैं ऐसा सिर्फ इसलिए है क्यूंकि उनकी services काफी low रहती हैं लेकिन जब हम star Hotels की दुनिया में प्रवेश करते हैं तो 1 star होटल सबसे lower Hotel होता है और 5 star Hotel सबसे होटल quality का होटल होता है, लेकिन शायद अब आप सोचेंगे की बहुत से Hotels 7 star Hotel के name से भी जानें जाते हैं।

वैसे तो 5 star होटल में सभी services मौजूद होती हैं यानीं की उन्हीं होटल की rating five star होती है जोकि top level की services provide करते हैं और लगभग सभी प्रकार के services provide करते हैं लेकिन इसके बाद वो दुनिया के वो Hotels आते हैं जोकि दुनिया के top होटल हैं जिनकी services 5 star Hotels से बेहतर है।

जैसे की

  • Burj Al Arab (United Arab Emirates) Average 128000 INR (1753 USD) Per night
  • Signiel Seoul (South Korea) Average 30000 INR (410 USD) Per night
  • Umaid Bhawan Palace (Jodhpur, India) Average 37000 INR (506 USD) Per night
  • Taj Falaknuma Palace (India) Average 28000 INR (384 USD) Per night
  • signiel seoul (South Korea) Average 30000 INR (410 USD) Per night

7 star होटल के rates बहुत अधिक होते हैं इस 7 star होटल में एक normal job करनें वाला व्यक्ति कभी नहीं जा सकता है क्यूंकि जितना उसकी monthly salary होती है उससे अधिक तो 7 star Hotels के per day का cost होता है।

हालाँकि जरुरी नहीं की सभी 7 star होटल महंगे ही हों इसलिए यदि आप 7 star में ठहरने का प्लान बना रहे हैं तो आप search कर सकते हैं आपको cheap 7 star होटल भी मिल जायेंगे जिसकी कीमत लगभग 10000 INR (135 USD) per nigh होगी, हालाँकि ये भी कोई बहुत छोटी रकम नहीं है बहुत से लोग महीने में इतना कमा भी नहीं पाते हैं तो इतना एक दिन के ठहरनें के लिए काफी महंगा सौदा होगा।

लेकिन हाँ यदि आपका इतना budget नहीं है तो आप low rating होटल के बारे में विचार कर सकते हैं बिना rating वाले होटल के बारे में विचार कर सकते हैं वो होटल भी काफी शानदार होते हैं और वो भी कम दामों में।

Motel

Motel Motel होटल मुख्यतः सड़कों किनारे होते हैं, हालाँकि किसी भी type का होटल सड़क के पास हो सकता है सिर्फ सड़क के किनारे होनें से कोई Hotel motel नहीं कहा जायेगा बल्कि motel की services, ususal होटल से कुछ अलग होती हैं।

motel सड़क के ठीक पास में मौजूद होते हैं जैसे की road की पास petrol pum मौजूद रहते हैं, motel में parking facility उपलब्ध होती है क्यूंकि motel का मुख्य मकसद ही travellers से होता है जोकि खुद के वाहन से travel करते हैं।

क्यूंकि यदि अन्य travaller की बात हो तो वो कहीं भी किसी भी होटल ठहर सकते हैं लेकिन वो travellers जोकि खुद के वाहन से travel करते हैं वो road के पास में मौजूद Hotel में ठहरना पसंद करते हैं चूंकि ये traveller अपनें खुद के vehicle से travel कर रहे होते हैं तो इन्हें parking zone की भी जरुरत होती है।

motel भी विभिन्न प्रकार के हो सकते हैं जैसे की अधिक best services या कम services, motel का तात्पर्य Motor + Hotel से होता है, यानीं की ऐसे होटल को motel कहते हैं जोकि vehicle parking का option dete हैं।

Capsule होटल

इस तरह के होटल को Capsule होटल इसलिए कहा जाता है क्यूंकि इनके rooms बहुत ही छोटे size के होते हैं हालाँकि capsule Hotel विभिन्न जगहों पर विभिन्न size में मौजूद होते हैं बहुत जगहों पर इनका size बहुत छोटा होता है इतना छोटा की आप इसमें बहुत आसानीं से लेट सकते हैं लेकिन बैठना थोड़ा मुश्किल हो सकता है।

और कुछ places पर capsule होटल के size कुछ बड़े होते हैं बड़े size के capsule की height और width लगभग 5 feet होती है, capsule Hotel की ये highest size होती है, capsule Hotel में भी rooms होते हैं लेकिन एक room के under ढेरों capsule box मौजूद रहते हैं जिसमें व्यक्ति लेट सकता है सो सकता है।

Youth होटल (Hostel)

इस तरह के होटल specially students के लिए design किया गया होता है क्यूंकि सभी student usual होटल के खर्च को वहन नहीं कर सकते हैं क्यूंकि student के पास earning का कोई source भी नहीं होता है और students को रहनें के साथ साथ अपनीं study भी करनीं होती है जिनका खर्च उनकी family संभालती है और उनकी family के भी विभिन्न प्रकार के खर्चे होते हैं।

तो ऐसे में एक middle class family के लिए एक normal होटल का खर्च संभालना काफी मुश्किल होता है जिसका best option होता है youth होटल यानीं की hostel,  और hostel भी विभिन्न प्रकार के होते हैं इनका arrangement भी capsule Hotel के जैसा ही होता है जिससे की इनकी cost कम होती है।

बहुत से youth होटल में भोजन की भी व्यवस्था होती है और बहुत से youth होटल में भोजन की व्यवस्था नहीं होती है, student अपनीं  सुविधा के अनुसार hostel का चयन कर सकते हैं, बहुत से colleges द्वारा भी hostel provide किये जाते हैं।

Folating होटल

floating होटल एक तरह एक ship based होते हैं हालाँकि इनकी services भी विभिन्न floating Hotel में विभिन्न प्रकार की होती हैं लेकिन ये होटल normal होटल की तरह जमीन पर नहीं होते हैं बल्कि water के ऊपर float करते रहते हैं जिससे की इन होटल में मौजूद custumers को एक अलग class की अनुभूति होती है, definitely आपको ये होटल काफी ज्यादा पसंद आएगा।

floating होटल का सबसे बड़ा फायदा ये हैं की ये Hotel आपको विभिन्न जगहों की शैर कराएगा, ऐसी ऐसी locations पर आपको ले जाया जायेगा जहाँ चारों तरफ पानीं ही पानीं हो, हालाँकि सभी floating होटल की अलग अलग policy होती है कौन सा floating Hotel कहाँ की शैर कराता है आप जानकारी करके booking करवा सकते हैं और इसका आनंद उठा सकते हैं।

floating होटल यानीं पानीं के जहाज जोकि होटल के लिए design किये गए होते हैं और शैर कराते हैं वो किसी जन्नत से कम नहीं होते मैं recommend करूँगा इस तरह के होटल का आनंद एक बार जरूर लें, हाँ लेकिन इनकी cost कुछ अधिक हो सकती है, यदि लम्बी दूरी को तय करनें वाले floating होटल के बारे में plan करेंगे तो अधिक खर्च होगा और कम distance वाले में कम खर्च आएगा लेकिन आपको इसमें रहनें का एक अद्भुत आनंद मिलेगा।

पानीं के भीतर होटल

बहुत से locations पर ऐसे भी होटल मौजूद हैं जोकि पानीं के भीतर हैं इस तरह के होटल की roof और walls पारदर्शी भी होती हैं और अपारदर्शी भी क्यूंकि विभिन्न प्रकार की services होती हैं तो सभी के लिए अलग अलग designes होती हैं, room की बड़ी बड़ी खिड़कियां और पारदर्शी होती होती हैं जिससे की custumer को अनुभूति होती है उसे define नहीं किया जा सकता है ये होटल काफी luxury होते हैं।

पानीं के ऊपर

दुनिया में इस तरह के बहुत से होटल मौजूद हैं जगह जगह पर इस तरह के होटल मिल जायेंगे, middle class होटल, high class होटल, luxury होटल, floating होटल, जी हाँ पानीं के ऊपर आपको ऐसे होटल भी मिलेंगे जोकि float करते रहते हैं जिसके बारे में हम ऊपर बता चुके हैं।

Farmhouse होटल

चूंकि कृषि area बहुत ही लुभावना होता है तो बहुत से लोग ऐसे भी locations पर अपना कुछ समय व्यतीत करनें, कृषि areas का आनंद लेने के लिए ऐसी locations पर जाते हैं विभिन्न agricultural locations पर बड़े पैमाने पर होटल होते हैं लेकिन बहुत सी agricultural locations पर low level पर भी होटल मौजूद होते हैं जहाँ भोजन की व्यवस्था के साथ साथ कुछ rooms भी available होते हैं।

ये होटल बहुत लुभावनें होते हैं, यहाँ का वातावरण बहुत ही मनभावक होता है definitely आप इस तरह  कुछ समय व्यतीत करना चाहेंगे, इस तरह के होटल individual family द्वारा भी चलाया जा सकता है और staff भी होते हैं, ये depend करता है owner पर की वो उस होटल को कैसे चलाना चाहता है।

Pension होटल

ये होटल भी almost सभी देशों में होते हैं लेकिन इनकी services सभी जगहों पर एक समान नहीं होते क्यूंकि ये होटल किसी individual family द्वारा चलाये जाते हैं, ये होटल residential होते हैं चूंकि ये होटल किसी व्यक्तिगत family द्वारा व्यक्तिगत location पर चलाया जाता है तो बहुत सी locations पर pension Hotel थोड़ा limited भी हो सकता है।

बहुत से pension होटल में खानें पीने की  व्यवस्थाएं  होती हैं और बहुत सी जगहों पर सिर्फ भोजन की व्यवस्था होती है ठहरनें की नहीं, और बहुत सी जगहों पर सिर्फ ठहरनें की व्यवस्था होती है भोजन की नहीं, चूंकि ये individually चलाये जाते हैं तो इनकी cost हर एक इंसान के budget में  होती है।

Classic होटल

हालाँकि सभी होटल एक specific condition के लिए best रहता है कुछ ज्यादा best quality के होटल होते  हैं जिनकी कीमत कुछ अधिक होती तो किसी की कुछ कम और सभी विभिन्न प्रकार के वातारण और locations पर होते हैं लेकिन classic Hotels की तादात दुनिया में सबसे अधिक होती है क्यूंकि लोग अन्य होटल में जानें के लिए तब plan बनाते हैं और उन होटल में जाते हैं जब  उनकी उस type के वातावरण में travel करने की इच्छा होती है।

लेकिन classic होटल ही अधिकतर लोगों का ठिकाना होता है क्यूंकि चाहे जिस मकसद से लोग travel कर रहे हों उन्हें आस पास बहुत से classic Hotels मिल जाते हैं इनकी भी quality बहुत शानदार होती है इनके भी विभिन्न Hotels के rate अलग अलग होते हैं।

कुछ classic होटल में restaurants मौजूद होते हैं और कुछ में नहीं, लेकिन इससे कुछ विशेष फर्क नहीं पड़ता है क्यूंकि होटल में restaurant हो या ना हो आस पास बहुत से restaurants मिल जाते हैं, लेकिन होटल में internal restaurant होनें का फायदा ये होता है की room services भी available होती हैं।

और classic होटल के rent भी हर किसी के budget में होते हैं लगभग 1000 – 3000 में काफी best quality के होटल मिल जाते हैं।

होटल की cost

होटल की cost कई बातों पर depend करती है बहुत से ऐसे भी होटल हैं जोकि कम से कम दाम में आपको मिल जायेंगे लेकिन बहुत से ऐसे भी होटल होते हैं जोकि बहुत अधिक खर्चीले होते हैं, कितनें costly Hotels होते हैं शायद आप सोच भी नहीं सकते।

इतनें खर्चीले की एक normal व्यक्ति की 1 महीनें की salary से सिर्फ 1 – 2 दिन ही उन होटल में रहा जा सकता है, हालाँकि हर कोई इतनें खर्चीले होटल नहीं use करता है almost 2000 – 5000 INR में best Hotels मिल जाते हैं।

तो यदि आप कहीं बाहर जा रहे हैं कहीं travel करने जा रहे है किसी काम से जा रहे हैं तो डरने की बात नहीं है बहुत से सस्ते होटल भी मिल जायेंगे, लगभग 500 – 1000 INR में, सभी जगहों पर सभी तरह के होटल मौजूद होते हैं कुछ सस्ते दामों में कुछ अधिक महंगे, और आप अपन budget के हिसाब से तय कर सकते हैं की आपको किस तरह का Hotel select करना चाहिए।

होटल मैनेजमेंट क्या है

होटल management को short में HM भी कहा जाता है।

जब आप किसी होटल में गए होंगे या किसी बड़े Hotel में गए होंगे तो आपको वहां बहुत से कार्यकर्त्ता मिले होंगे आपनें देखा होगा की उस पूरे system को handle करनें के लिए एक या multiple team होती है जिन्हें उस होटल के owner द्वारा hire किया गया होता है और उन्हें monthly salary दी जाती है।

तो हालाँकि जहाँ तक बात है एक छोटे होटल या restaurant की तो normally कुछ लोगों को employee के रूप में hire कर लिया जाता है लेकिन जहाँ तक बात है कुछ बड़े होटल या restaurant की तो उनके employee होटल management के जरिये ही hire किये जाते हैं।

क्यूंकि होटल management एक पूरा system होता है जिसमें विभिन्न प्रकार के courses होते हैं और जो student जिस course को करता है उससे related होटल jobs पा सकता है।

जैसे की ये रहे कुछ होटल management के courses

  • Diploma in food and Beverage services
  • diploma in bakery and confectionery
  • Diploma in Front Office
  • Diploma in housekeeping
  • Diploma in food production

होटल management कोई मामूली industry नहीं है बल्कि एक बहुत बड़ी industry है यहाँ तक की Hotel management में graduation और post graduation के option भी मौजूद हैं यदि होटल management में आप अपना career बनाना चाहते हैं तो इन courses को कर सकते हैं, होटल क्या है | hotel ka matalab

जैसे की bachelor of hospitality management, Bachelor ऑफ़ Hotel management, bachelor of Hotel management in food and beverage, हालाँकि इन courses के साथ ही होटल management में आपके लिए रास्ते खुलनें लगेंगे और यदि आप चाहें तो होटल management में post graduation भी कर सकते हैं, और होटल में अच्छे पद की job हासिल कर सकते हैं।

होटल और रेस्टोरेंट में क्या अंतर है

होटल और रेस्टोरेंट में बहुत ज्यादा फर्क होता है क्योंकि एक रेस्टोरेंट में सिर्फ और सिर्फ भोजन की व्यवस्था होती है जिसमें लोग आते हैं भोजन करते हैं और जाते हैं लेकिन एक होटल में अलग-अलग ढेरों सेवा ही हो सकती हैं जैसे कि ठहरने की सेवा के लिए रूम भोजन की सेवा यानी की रेस्टोरेंट इत्यादि।

होटल में सर्विस कितने प्रकार की होती है

सभी होटल अपनी पसंद और बजट के अनुसार सुविधाएं प्रदान करते हैं जिसमें मुख्य रुप से भोजन की सर्विस, फ्री वाईफाई और ठहरने के लिए रूम की सुविधा मौजूद होती है इसके अलावा विभिन्न प्रकार के होटल में डिस्को इत्यादि जैसी सेवाएं मौजूद हो सकती हैं।

इस आर्टिकल में आपने सीखा Hotel kya hai और Hotel meaning in Hindi हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.