आरटीओ क्या है, RTO full form in Hindi 

यदि आप युवा हैं तो कभी न कभी तो आपनें RTO का name जरूर सुना होगा क्यूंकि आज हर कोई vehicles use करता है फिर वो चाहे two wheeler हो या four wheeler, और ऐसे में एक सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है और वो है vehicles पर RTO का control, जी हाँ vehicle का management RTO के अंतर्गत आता है, और लगभग हर कोई अपने लिए dl बनवाने RTO office जरूर जाता है जोकि कई process और परिक्षण  issue किया जाता है। RTO kya hai।

RTO kya hai in Hindi

RTO का full form Regional Transport Office होता है RTO एक ऐसा system है जोकि उसकी सीमा के भीतर के पूरे transport system का management करता है, जैसा की आपको ऊपर आरटीओ का पूरा नाम बता दिया गया है जिसका मतलब होता है “क्षेत्रीय परिवहन दफ्तर”.

सभी राज्यों में उनके districts के अलग अलग office और officer होते हैं उनकी team होती है और सभी जिलों का RTO code भी अलग अलग होता है और उस जिले का RTO code ही उस जिले के सभी vehicles पर use किया जाता है।

फिर वो ये नहीं matter करता है की वो vehicle two wheeler है या four wheeler सभी के लिए एक सामान RTO code होते हैं जिसका फायदा ये होता है की वो vehicle india में कहीं भी आसानीं से ये पता  लगाया जा सकता है की ये vehicle कहाँ का है।

क्यूंकि बहुत सी ऐसी दुर्घटनाएं या अपराध होते रहते हैं जिसमें police vehicle को ढूंढ लेती है या कोई accident जिसमें चालक vehicle छोड़कर भाग जाता है इत्यादि तो इन सभी conditions में RTO code ही एक ऐसा तरीका होता है जिससे उस vehicle owner तक बहुत ही आसानीं से पहुंचा जा सकता है।

क्यूंकि जब कोई भी व्यक्ति कोई भी vehicle buy करता है तो उसके vehicle का registration किया जाता है जिसमें vehicle owner की identity और अन्य document, RTO को submit किये जाते हैं, यानीं की vehicle owner का पूरा data RTO office में मौजूद रहता है।

तो ऐसे में vehicle owner तक पहुँचने के लिए पहले उस vehicle के RTO code के जरिये RTO office को access किया जायेगा और वो RTO office उस vehicle के registration number से owner की detail provide करेगा।

RTO का कार्य, vehicle registration, dl issue करना, permit देना इत्यादि है, परिवहन विभाग RTO के under ही होता है, यदि आप किसी vehicle पर printed RTO code जानना चाहते हैं तो बहुत ही simple है किसी भी vehicle के number plate पर starting में ही RTO code होता है।

जैसे की मान लीजिये उत्तर प्रदेश के सभी जिलों के vehicle पर RTO code up से start होता है और उसके बाद दो digits होते हैं जैसे की उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले का RTO code “UP 44” होगा।

इस लेख में आपने सीखा RTO kya hai और RTO full form in Hindi हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *