किस कंपनी के शेयर खरीदें, Kis company ke share kharide 

Kis company ke share kaise kharide। share market में लगभग 5000 company से भी ज्यादा company है। जिसमे से आपको सही company ढूंढना और उसमे invest करके income Generate करना बहुत ही मुश्किल का काम होता है तो आज हम आपको किस company के shares में invest करना है। Kis company ke share kharide।

indian stock market में दो exchange है NSE  (National Stock Exchange) और दूसरा BSE  ( Bombay Stock Exchange) nse में लगभग 1800 company है और bse में 3000 company है total लगभग 5000 company है  जिसमे से किस company के share में invest करना है ये  पता लगाना थोड़ा मुश्किल है।

तो चलिए आज  हम step by step समझने का प्रयास  करते है कि किस company के share खरीदे और last में कुछ महत्वपूर्ण points के बारे में बात करेंगे जो की आपको invest करने में आपकी मदत करेगा जिससे आप सही निर्णय ले सकेंगे।

Best company to buy stock in hindi । Kis company ke share kharide

किस company के share खरीदे अगर आप share market में पैसे invest करना चाहते है तो सबसे पहले पूंछा जाने वाला प्रश्न यही होता है की किस company के share ख़रीदे या किस company में invest करे।

अगर आप ये निर्णय खुद लेना चाहते है तो आपको share market के बारे में जानना बहुत ही आवश्यक है। और company के बारे में भी जानना पड़गा। जिससे आप अपनी Research करके अपना निर्णय खुद ले सके। अगर हम आपको किसी company के बारे में बता भी दे तो क्या Guarantee है की आप हमारे बताये गए share में invest करके profit कर पाएंगे क्योकि आपको हम आज के Research के हिसाब से company बताएंगे हो सकता है आप ये article 2 या 3 month बाद देख रहे हों। और हो सकता है जब आप ये article पढ़ रहे हो तो उस time इस company में invest करना सही न हो। तो आपको loss हो जायेगा।

तो इससे अच्छा है कि आप जो हमने Research क्या था आप उसके process को समझ लीजिये जिससे आपको किसी की मदत ही न लेनी पड़े और आप अपनी Research खुद करे और प्रॉफिट कमाए। ये इतना आसान नहीं लकिन मुश्किल भी नहीं। तो हम आज आपसे कुछ process के बारे में बात करेंगे जिससे की आप अपनी Research करने में आपकी मदत करे।

सबसे पहले आपको company के बारे में समझना होगा की आप किस company में invest करने जा रहे है जिस company में आप invest करने जा रहे है वो किस category में  आती है। category क्या होती है कैसे होती है इस सबको आगे समझाते है।

Company की Category चेक करें

share market में लगभग 5000  company है जिसको अलग अलग उसके Capitalization के आधार पर बाटा गया है। अगर आपको Capitalization समझ आ गया तो आपको shares select करने में आसानी होगी। क्योकि जिसका Capitalization जितना अच्छा होता है उस company में ज्यादा लोग investment करना चाहते है। तो आपको भी ये समझना बहुत ही आवश्यक है।

Capitalization को एक और तरीके से भी समझा जा सकता है कि जी company का share जीतन ज्यादा महगा हो उस share की Capitalization उतनी ही ज्यादा होगी। जरूरी नहीं है कि जिसकी Capitalization अच्छी है उसमे आप invest करे इसके लिए और भी parameters का use करेंगे जिसको हम आगे समझेंगे।

स्टॉक मार्केटिंग Capitalization को समझें

किसी भी company की Value Capitalization कहलाती है। company के shares की संख्या को उनकी market Value से Multiply  करने पर company की Capitalization निकल कर आती है।

share market में सभी Companies को उसके Capitalization के आधार पर तीन category में रखा जाता है small cap , mid cap , large cap हम इन सभी के बारे में Details से और step by step समझते है।

Small cap company

जिस company की Value या market Capitalization 2000 करोड़ से कम होती है उसको small cap company कहा जाता है वो सभी share काम दामों में मिलते है क्योकि उनका market Capitalization कम है इस लिए उस company के share काम दामों में मिल जाते है

small cap Companies में long term के लिए पैसे नहीं लगाना चाहिए जब आप view 5 से 10 वर्ष का हो। क्योंकि ये Companies  में long term में ग्रोथ बहुत कम देखने को मिलती है।

mid cap company

जिस company का market Capitalization 2000 करोड़ से  10000 करोड़ होता है वो Companies mid cap Companies में आती है इनका market price small cap से ज्यादा होता है। और छोटे investor mid cap में ज्यादा invest करना चाहते है क्योकि इनके डूबने का खतरा कम होता है। अगर market में ज्यादा गिरावट न हो तो इन shares में ज्यादा गिरावट नहीं होती है।

mid cap Companies में आप 5 से 10 वर्ष के लिए investment कर सकते हो और ये आपको अच्छा खसा Return भी देते है। आपको जानकारी के लिए बता दे की आप अगर mid cap में investment करते है तो आप किसी भी mid cap में invest न करे। mid cap में भी जो अपने sector के Leader हो उन्ही में invest करे तो आपके profit में होने की संभावना ज्यादा होगी।

large cap company

जिस Companies का market Capitalization 10000 करोड़ से ज्यादा होता है वो Companies large cap Companies में आती है। इन Companies  का share price बहुत महगा होता है। इनमे गिरावट बहुत ही कम देखने को मिलती है।  अगर market में बहुत बड़ी गिरावट आती है तो ही इन shares में गिरावट आती है। ये Companies के share small cap और mid cap के shares से महंगे होते है

इन Companies में बड़े बड़े institutional लोग या बड़े बड़े investor ही invest करते है। इसमें आप भी कर सकते हो लेकिन आप के पास ज्यादा fund होना चाहिए तभी आप इनमे invest कर पाओगे। क्योंकि ये shares बहुत ही महंगे होते है। ये shares में लोग 8 से 10 वर्षो के लिए invest किया जाता है

large cap के shares देश की अर्थवेवस्था के साथ चलते है तो अगर  आप इनमे invest करने की सोंच रहे है तो आपको देश की अर्थवेवस्था को भी समझना होगा। क्योंकि ये देश की अर्थवेवस्था के साथ Correlate होक चलते है।

ऊपर बताये गए mid cap, small cap, large cap  इन तीनों में जो investment का time दिया गया है कृपया आप यही न करे क्योंकि ये सिर्फ उदाहरण के लिए दिया गया है। ये सब market के condition के हिसाब से तय होता है।

स्टॉक सिलेक्शन कैसे करें

share market में सबसे पहले होने वाला जो काम है वो है sock selection क्योंकि आप entry exit तो बाद में करते हो क्योंकि उसके लिए आपको stock चाहिए होता है share market में तीन ही चीजे होती है stock selection ,entry और exit share market में यही तीन चीज करना होता है और आपको जो भी सीखना और समझना होता है उन सब चीजों से यही तीन चीजे होती है stock selection, entry और exit इसके इलावा चौथी कोई चीज नहीं होती।

stock selection का कोई एक तरीका नहीं होता। इसको भी कई आधार पर किया जाता है। हम आपको जो भी तरीके बतायंगे ये सब अलग अलग है।  और सभी का use long term और sort term दौनो के लिए use किया जा सकता है। तो चलिए हम step by step समझने की  कोसिस करते है।

Sector के आधार पर stocks selection

sector समझने के लिए आपको थोड़ा मार्किट के बारे में जानना जरूरी है ये बाते आपको हमेशा काम आएंगी। stock ,sector ,index और  market ये सब आपस में Correlation होता है। इस  Correlation को समझने के बाद आप sector के आधार पर stock selection कर पाएंगे। तो चलिए हम समझते है।

अलग अलग stocks को मिलाकर sector बनता है और अलग अलग sector को मिलाके index बनता है और अलग अलग indexes को मिलाके market exchange बनता है तो इसी प्रकार सब आपस में एक दूसरे से सम्बन्ध रखते है। और इनके काम करने का तरीका भी कुछ ऐसे ही होता है की जब index ऊपर जा रहा होगा तब sector भी ऊपर जायेगा और जब sector ऊपर जायेगा तो stocks भी ऊपर ही  जायेंगा।

अब आप इसका फायदा कैसे उठाये हम इसको समझने की कोसिस करते है। मान लो आप को लगता है की आने वाले time में pharma sector ऊपर जाने वाला है कारण कुछ भी हो सकता है मानलो अभी के time में corona चल रहा है। तो सबको पता है की Medicine की Demand आएगी और जब Medicine की Demand आएगी तो investor pharma company में invest करेगा और जब लोग invest करेंगे तो share का price ऊपर जायेगा तो आप भी सही टाइम देख कर इन  Companies में आप भी invest करिये।

कृपया ये आपको नहीं समझ आया तो आप इसे एक और बार पढ़िए अगर आपको ये समझ आ गया तो आपको काफी आसानी होगी sector के आधार पर stock selection करना। ये बहुत आसान भी है और बहुत Effective भी है।

news के आधार पर stock selection

news के आधार पे आप stocks selection कर तो सकते है मै आपको तरीका भी बता दूंगा लेकिन इस तरीके से काफी menupletion होता है जिससे आपको काफी loss का सामना करना पड़ सकता है ये तरीका सबसे खतरनाक होता है। news के आधार पर stocks selection करने के लिए आपको market की काफी  जानकारी होनी चाहिए। तभी आप news के आधार पर stock selection कर पाएंगे।

news के आधार पर stock  selection के लिए आपको  social media में काफी active रहना पड़ता है और हर दिन news देखना होता है। ये काफी  मुश्किल भी  होता है। चलिए समझते है की हम कैसे news के आधार पर stock selection कर सकते है।

मान लीजिये आज कोई news आयी जिसमे बताया गया की आने वाले कुछ time में tatamotore company एक नई कार लाने वाला है जो की market में लोगों को बहुत पसंद आने वाली है। तो जैसे ही ये news social media पर आएगी तो लोग इसके share में अपना पैसा डालेंगे जिस वजह से इस  share का price तेजी से ऊपर जायेगा। इसी का फायदा आप उठा कर आप share में अपना पैसा लगा सकते हो और profit कमा सकते हो।

लेकिन आपको काफी ध्यान देना पड़ेगा क्योंकि गलत news हुई तो आपको काफी loss भी हो सकता है। अगर समझ कर invest किया जाय तो आपको अच्छा profit हो सकता है

Technical chart के आधार पर stock selection

ज्यादा तर लोग technical chart के आधार पर ही stock selection  ही करते है क्योकि अगर आपको chart riding आ जाय तो आप किसी भी share में बड़े ही आसानी से आप पैसे बना सकते हो chart riding से stock selection करना आसान भी है और मुश्किल भी है लेकिन अगर आपको chart riding आ जाय तो आप बहुत ही आसानी से share sort list कर सकते हो जिसमे आपको invest करना है

chart riding बहुत ही बड़ा subject है उसे इसमें समझाना थोड़ा मुश्किल है लेकिन मै कोसिस करूँगा की मै आपको समझा सकू। chart देखने का अपना अलग अलग तरीका होता है लेकिन मै आप को कुछ Common चीजे बताऊंगा जो की ज्यादा तर लोग use करते है। मै बताने का प्रयास करूँगा और उम्मीद करूँगा की आपको समझ में आजाय।

technical chart देखने के लिए आपके पास कुछ चीजे होना आवश्यक है जैसे आपके पास charting tool होना चाहिए जिसमे आप chart को देख पाए। आपको chart कई तरीको से मिल सकता है ये free में भी है और ये fee में भी है। charting tool मिलने के बाद आप large cap stock को ले और उसका chart देखे large cap में अपने जो भी share चुना है उसमे आप कम से कम 1 वर्ष का डेटा चेक करे की market के कितना Percent गिरने के बाद market Recover करते है। आपको मिलेगा की share 3 से 5% गिरावट  बाद share का price ऊपर ही  जाता है। गिरावट का Percent ऊपर नीचे हो सकता है आप जब back test करेंगे तो आपको idea लग जायेगा की कितनी गिरावट  के बाद share में invest करे। तो मई उम्मीद करूँगा की आपको समझ आ गया होगा।

Stocks के fundamental के आधार पैर stocks selection

stock के fundamental के आधार पर भी stock selection किया जाता है। इन तरीकों से selection किय गए stock को लगभग 10 से 15 सालों के लिए लिया जाता है। मै आपको एक बार फिर बता दूँ की जरूरी  नहीं है की आप fundamental के आधार पैर stock selection में 10 से 15 सालों के लिए ही किया जाय ये कम भी हो सकता है और ज्यादा भी हो सकता है। कृपया इसको समझे और अपने हिसाब से तय करे की आपको क्या करना है।

stock के fundamental के आधार पर stock selection के लिए आपको company के बारे में कुछ ज्यादा जानने की जरूरत होती है। आप company के working style को देखते है और एक अनुमान लगते है की जब company के काम करने का तरीका ठीक ठाक है और company में काम करने वाले ठीक है ईमानदार और टिकाऊ है तो वो company market में टिक पायेगी तो आप उसके shares में अपना पैसा invest करते है। थोड़ा विस्तार से जानने की कोसिस करते है।

fundamental में देखे जाने वाले कुछ points इस प्रकार है –

  • company market में कितने दिनों से है।
  • company का turn over वर्ष का कितना है।
  • company कितना devident देती है
  • company का quarterly Result कैसा आता है।
  • company की yearly कितनी Earnings है।
  • company का CO कौन है।
  • company के Director कौन है
  • company में काम करने वाले worker कैसे है
  • company कौन सा product बनाती है।
  • company के product market में डिमांड सप्लाई  कैसा है।
  • company की balance seat कैसी है।

और भी कई चीजे देखा जाता है fundamental के आधार पर shares में invest करने के लिए। ये सब एक चीज के लिए देखा जाता है की हम जिस company में invest करने जा रहे है वो market में टिकेगी या नहीं। अगर ऊपर बताये गए points के आधार पर सब ठीक होगा तो company market में लम्बे time तक टिकेगी। और जब टिकेगी तो वो हमे return भी देगी।

Economy के आधार पर stocks selection

economy के आधार पर पैर stock selection करने के लिए आपको अर्थशास्त्र की जानकारी होनी चाहिए जिसके अन्तर्गत वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन, वितरण, विनिमय और उपभोग का अध्ययन किया जाता है। अगर आप indain stock market में invest करते है  तो आपको india की economy देखना होता है और देख कर invest करना होता है जिसके अंतर्गत आप invest करना चाहते है वो company किस चीज को बनाती है और उसका उत्पाद कैसा है और उसके product use करने वाले उपभोक्ता के बारे में सब कुछ जानना होता है

economy के आधार पर stock selection करने में आप इन सभी का सही से अध्ययन करके invest करते है तो आपको बहुत ही अच्छा return मिल सकता है। इन सबका अध्ययन करने के लिए आपको अर्थसास्त्र का ज्ञान होना जरूरी है।

आपको जो ऊपर stock selection का तरीका बताया गया है उसमे से आप कोई भी use कर सकते हो आप चाहो तो दो तीन तरीकों को मिलाके भी कर सकते हो। जेकिन आपको याद रहे की अगर आपको long term तक market से पैसे कमाना है तो मुझे लगता है आपको की आपको सीख कर खुद ही invest करना होगा शुरुआत में आप चाहो तो किसी की मदत ले सकते हो जैसे आपको कोई दोस्त कर रहा हो या आपका कोई relative हो सकता है जो की market में काफी time से trad कर रहा हो या फिर आप किसी Advisor की सलाह ले सकते है।

shares का selection करते समय कुछ महत्वपूर्ण बाते

अगर आप share selection कर रहे है invest करने के लिए तो कुछ महत्वपूर्ण बाते जाना बहुत जरुरी है जिससे आपका selection सही तरीके से हो जिससे आप अपने investment पर ज्यादा profit कमा पाए। हमने आपको पहले भी बताया था की stock market में तीन  चीजे ही करने को होती है। stock selection, entry और exit जिसमे तीनो ही बहुत ही Important होती है। तीनो में अपने एक में भी गड़बड़ी की तो आपको काफी loss का सामना करना पड सकता है। कुछ बातें जिनको हम समझने का प्रयाश करते है –

  • आप जिस भी आधार पर stock selection कर रहे है कृपया उसको अच्छे से समझ कर करे।
  • stock selection करने के बाद investment करने से जबतक आपको Experience न हो जाय तब तक आप अपने Financial advisor की सलाह जरूर ले।
  • stock selection में market को ज्यादा time दे कृपया जल्दबाजी न करे।
  • अगर आपको आपका Financial advisor बता रहा है कोई stock तो भी अपने अस्तर से stock के company के बारे में जाने और आपका Financial advisor किस चीज को देख कर दे रहा है कृपया उनसे पूछ।

बाकि तो आपको सभी चीजों के बारे में ऊपर बताया गया है की आप किस तरह stock selection  कर सकते है उसको अच्छे से समझे और समझ कर invest करे।

इस लेख में आपने सीखा Kis company ke share kharide हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *