जज की सैलरी कितनी होती है, Judge salary per month 2022

Judge ki salary kitni hoti hai जज अकेले या अन्य लोगों के साथ सम्मिलित रूप से किसी न्यायालय की कार्यवाही की अध्यक्षता करता है और Judge का कार्य किसी भी मामले को निष्पक्ष सुनना और अन्त में निर्णय देना होता है। Judge का कर्त्तव्य है कि वह निष्पक्ष होकर निर्णय करे और न्यायालय की कार्यवाई को खुला बनाये रखे, Judge ki salary kitni hoti hai

Judge ki salary kitni hoti hai

Judge की सैलरी जानने से पहले आपको Judge बारे में कुछ बाते और Judge के कामों के बारे में कुछ जरूरी बाते जानने की आवश्यकता है, मै आपको बताना चाहूंगा जज का काम तो एक ही होता है लेकिन Judge जहाँ बैठते है उसे कोर्ट कहा जाता है ये अलग अलग होता है और उसी के हिसाब से इनकी सैलरी भी होती है।

मै आपको बता चाहूंगा की हमारे भारत में तीन कोर्ट है –

  • डिस्ट्रिक कोर्ट या सिविल कोर्ट
  • हाई कोर्ट
  • सुप्रीम कोर्ट

1. डिस्ट्रिककोर्ट या सिविल कोर्ट के जजों की salary

डिस्ट्रिक कोर्ट या सिविल कोर्ट एक जिले में एक ही होता है, और सिविल कोर्ट को हिंदी में  सत्र न्यायलय या जिला न्यायलय भी कहते है और इनका काम भारत में जिला स्तर पर न्याय देना होता है, जिला न्यायालय उस प्रदेश के हाई कोर्ट के प्रशासनिक नियंत्रण में काम करते हैं, और इस कोर्ट में दो Judge होते है पहला जूनियर जज और दूसरा सीनियर जज, जूनियर जज की सैलरी 45,000/- रुपये होती है, जबकि सीनियर जज की सैलरी 80,000/- रुपये होती है।

2. हाई कोर्ट

हाई कोर्ट प्रदेश स्तर पर होते है और ये एक प्रदेश में एक ही होते है, जब कोई मामला सिविल कोर्ट में नहीं सुलझता तो उसे हाई कोर्ट में लाया जाता है. और उसकी सुनवाई की जाती है, अगर मै Judge की बात करूँ तो हाई कोर्ट में भी दो  Judge होते है, पहला जूनियर Judge और दूसरा सीनियर Judge, जूनियर Judge की salary 2,25000/- रुपये होती है और सीनियर जज की salary 2,50000/- रुपये होती है, जो की सिविल कोर्ट के जजों से बहुत ज्यादा होती है

3. सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट राज्य स्तर पर होता है, और इसे हिंदी में भारत का उच्चतम न्यायालय भी कहा जाता है, उच्चतम शब्द से ही पता चलता है  ये सभी न्यायालयों से बड़ा होता है और और ये भारत  में सिर्फ एक ही होता है, और उच्चतम न्यायालय भवन के मुख्य ब्लॉक को भारत की राजधानी नई दिल्ली में तिलक रोड स्थित 22 एकड़ जमीन के एक वर्गाकार भूखंड पर बनाया गया है

अगर मै इस कोर्ट के कामों की बात करूँ तो मै आपको बताना चाहूंगा की जब कोई बड़ा मामला होता है जोकि और देश के स्तर का होता है तो वो मामला सुप्रीम कोर्ट में लाया जाता है

और जब कोई मामला सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट में नहीं सुलझता या नहीं ख़त्म होता है तो उसे सुप्रीम कोर्ट में लाया जाता है, या फिर मान लीजिये की आपका कोई मुकदमा था और जिसका फैसला हाई कोर्ट या सिविल कोर्ट ने कर दिया और आप उस फैसले से संतुस्ट नहीं है तो आप अपना मुकदमा हाई कोर्ट में पेश कर सकते है जूनियर जज की salary 2,50000/- रुपये होती है और सीनियर जज की salary 2,80000/- रुपये होती है

Judge ki salary kya hoti hai

Supreme court ke judge ki salary kitni hoti hai

इस लेख में आपने सीखा judge ki salary kitni hoti hai हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *