ड्राइविंग लाइसेंस क्या है, DL full form in hindi

ड्राइविंग लाइसेंस एक ऐसा सर्टिफिकेट होता है जो कि व्यक्ति के वाहन चलाने की योग्यता को सत्यापित करता है, ड्राइविंग लाइसेंस को आरटीओ ऑफिस द्वारा जारी किया जाता है, जिसके लिए सबसे पहले कैंडिडेट को ड्राइविंग लाइसेंस के टेस्ट देना पड़ता है, जिसमें उसकी शारीरिक और वाहन चलाने की क्षमता का वेरिफिकेशन होता है। Driving licence kya hai।

Driving licence kya hai parivahan.gov.in

ड्राइविंग लाइसेंस वाहन चलाने का परमिशन देने वाला प्रमाण पत्र होता है जोकि सत्यापित करता है, कि वह व्यक्ति वाहन चलाने में सक्षम है, ड्राइविंग लाइसेंस दो चरणों में बनती है, जिसके प्रथम चरण में लर्निंग लाइसेंस जारी किया जाता है और दूसरे चरण में ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया जाता है, ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल हम मुख्य रूप से वाहन चालक के रूप में करते हैं, लेकिन इसका इस्तेमाल आईडेंटिटी कार्ड के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है, क्योंकि ड्राइविंग लाइसेंस गवर्नमेंट द्वारा जारी किए जाने वाला एक ऐसा डॉक्यूमेंट होता है जोकि हर जगह मान्य होता है।

Driving licence kya kaam aata hai

सभी वाहन चालकों के लिए ड्राइविंग लाइसेंस महत्वपूर्ण होता है और यदि आप बिना ड्राइविंग लाइसेंस के वाहन चलाते हैं तो आपको उसके लिए दंडित किया जा सकता है, जिसमें से दो पहिया वाहन के लिए अलग ड्राइविंग लाइसेंस होता है, और चार पहिया वाहन के लिए अलग ड्राइविंग लाइसेंस होता है, क्योंकि दोनों के लिए अलग-अलग टेस्ट होते हैं आप जिस प्रकार के वाहन का इस्तेमाल करते हैं उसके लिए ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हैं।

  • ड्राइविंग लाइसेंस का आप वाहन चालक के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं
  • आईडेंटिटी कार्ड के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं
  • विभिन्न प्रकार के फॉर्म आवेदन के समय ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल आईडेंटिटी के तौर पर कर सकते हैं

Driving licence banvane ke liye kya kya chahiye

यदि आपके पास रिक्वायर्ड डॉक्युमेंट्स नहीं है तो सबसे पहले आप अपने डाक्यूमेंट्स तैयार करें, ताकि आप अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकें

  • आधार कार्ड
  • हाई स्कूल मार्कशीट/age सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • यदि आप की उम्र 40 से ऊपर है तो मेडिकल सर्टिफिकेट और यदि 40 से कम है तो form-1

Driving licence ki fees kitni hai

ड्राइविंग लाइसेंस की फीस ₹200 से ₹1000 तक होती है और यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस टाइप का ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना चाहते हैं, और यदि आप किसी ब्रोकर के जरिए अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते हैं तो ये फीस अधिक हो सकती है।

Driving licence ke liye kitni umr chahiye

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए और यदि आपका लाइसेंस जारी किया जाता है, तो यह आपके 40 वर्ष तक वैलिड रहेगा उसके बाद आपको अपने ड्राइविंग लाइसेंस को रिन्यू करवाना होगा।

Driving licence kitne dino ke liye many rahta hai

ड्राइविंग लाइसेंस व्यक्ति के शारीरिक और मानसिक स्थिति को देखते हुए जारी किया जाता है, एक सामान्य व्यक्ति के ड्राइविंग लाइसेंस को उसके 40 उम्र तक के लिए जारी किया जाता है, और उसके बाद अपने ड्राइवरी लाइसेंस को रिन्यू करवाना होता है जो कि आप की शारीरिक स्थिति को देखते हुए जारी किया जाएगा, और उस दौरान मेडिकल सर्टिफिकेट भी आवश्यक रहेगा 40 की उम्र के बाद आकर ड्राइविंग लाइसेंस अधिकतम 10 वर्षों के लिए जारी किया जाएगा, और उसके एक्सपायर होने के बाद भी यदि आपकी फिजिकल एक्टिविटी बेहतर है तो आप उन्हें अपनी ड्राइविंग लाइसेंस को रिन्यू करवा सकते हैं, जोकि आप के शारीरिक स्थिति को देखते हुए एक जारी किया जाएगा और वह अधिकतम 5 वर्ष के लिए हो सकता है।

Driving licence kitne din me aata hai

ड्राइविंग लाइसेंस के मिलने में लगभग 2 महीने तक का समय लग सकता है क्योंकि सबसे पहले आपको अपना लर्निंग लाइसेंस बनवाना होगा, और जब आपका लर्निंग लाइसेंस मिल जाए तो उसके बाद आपको परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा।

और यदि आपके पास परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है लेकिन यदि आपके पास लर्निंग लाइसेंस है, तो भी आप पुलिस चेकिंग के दौरान अपनी लर्निंग लाइसेंस को दिखा सकते हैं, और उस दौरान भी आपको कोई समस्या नहीं होगी क्योंकि लर्निंग लाइसेंस भी ड्राइविंग लाइसेंस की तरह कार्य करता है, लेकिन लर्निंग लाइसेंस बहुत ज्यादा बुरा नहीं होना चाहिए क्योंकि एक सीमित समय के लिए लर्निंग लाइसेंस जारी किया जाता है, जिसका इस्तेमाल करके परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाया जा सकता है।

क्या बिना ड्राइविंग लाइसेंस के गाड़ी चला सकते हैं

निश्चित रूप से आप बिना ड्राइविंग लाइसेंस के अपनी गाड़ी को चला सकते हैं लेकिन यदि पुलिस चेकिंग के दौरान आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं होता है, तो यह आपकी बड़ी समस्या हो सकती है और आपको पेनालाइज किया जा सकता है, क्योंकि ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने के लिए उस व्यक्ति का टेस्ट लिया जाता है, कि वह व्यक्ति वाहन को चला सकता है या नहीं उदाहरण के तौर पर यदि आप मानसिक और फिजिकल रूप से फिट है, तो आपका ड्राइविंग लाइसेंस जारी कर दिया जाता है लेकिन यदि मान लीजिए कि आप मानसिक रूप से फिट है लेकिन यदि आपको आपको कोई शारीरिक समस्या है तो हो सकता है कि आपका ड्राइविंग लाइसेंस ना जारी किया जाए, और यदि ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया जाएगा तो वह विकलांग मोटरबाइक के लिए।

DL meaning in Hindi

DL का मतलब ड्राइविंग लाइसेंस होता है जिसका मतलब एक ऐसे प्रमाण पत्र से होता है जोकि वहां चलाने की परमिशन देता है।

Driving licence kaisa hota hai

Commercial driving licence kya hota hai

इस लेख में आपने सीखा Driving licence kya hai और DL full form in Hindi parivahan.gov.in हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।