डेबिट कार्ड क्या है, Debit card meaning in Hindi

डेबिट कार्ड एक प्रकार का प्लास्टिक कार्ड होता है जो कि बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को दिया जाता है, जिससे वे अपने बैंक अकाउंट में लेनदेन कर सकते हैं डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करके ऑनलाइन ट्रांजैक्शन भी किया जा सकता है, उदाहरण के तौर पर यूपीआई या फिर किसी भी लेनदेन के लिए डायरेक्ट डेबिट कार्ड के जरिए पेमेंट डेबिट कार्ड का इस्तेमाल एटीएम मशीन में भी किया जा सकता है, जिससे कि अपने अकाउंट की राशि जांच की जा सकती है अमाउंट कैसे निकाला जा सकता है इत्यादि। Debit card kya hai।

Debit card kya hai in hindi

डेबिट कार्ड क्या है और डेबिट कार्ड किस तरह होता है

डेबिट कार्ड के फीचर्स

नाम

डेबिट कार्ड पर गार्डन होटल का नाम कार्ड होल्डर की पैसा को सत्यापित करता है जो कि पेमेंट के समय भी डालना अनिवार्य होता है।

डेबिट कार्ड नंबर

डेबिट कार्ड नंबर डेबिट कार्ड का सबसे महत्वपूर्ण है कांटेक्ट होता है जो कि 16 अंक का होता है, डेबिट कार्ड नंबर कार डिकी सामने वाले हिस्से में बड़े अंकों में मौजूद रहता है जोकि 4-4 अंकों के साथ बंटा रहता है।

एक्सपायरी डेट

डेबिट कार्ड की एक निश्चित समय सीमा होती है और एक्सपायरी डेट की निर्धारित करता है कि आपका डेबिट कार्ड किस समय तक वैलिड होगा, एक्सपायरी डेट के बाद आपका डेबिट कार्ड काम नहीं करेगा, और उसके बाद आप अपनी बैंक में एक नया डेबिट कार्ड जारी करने के लिए एप्लीकेशन दे सकते हैं।

सीवीवी नंबर

डेबिट कार्ड का ये फाइनल और काफी महत्वपूर्ण नंबर होता है जोकि डेबिट कार्ड के पिछले हिस्से में मौजूद होता है और यह 3 अंकों का होता है, जोकि काली पट्टी के ठीक सामने प्रिंटेड रहता है इसका इस्तेमाल सभी प्रकार के लेनदेन में अनिवार्य होता है, यदि आप कहीं भी किसी भी तरह का पेमेंट कर रहे हैं और अपना डेबिट कार्ड डिटेल डाल रहे हैं तो उस दौरान सीवीवी नंबर भी डालना होता है, बिना सीवीवी नंबर डालें कार्ड वेरिफिकेशन कंप्लीट नहीं होता है।

Debit card ka upyog kaise kare

डेबिट कार्ड का इस्तेमाल दो तरीकों से किया जाता है जिनमें से एक होता है कि एटीएम मशीन में जिससे कि आप एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं, अपने एटीएम कार्ड का पिन बदल सकते हैं अपने खाते में मौजूदा राशि को जांच सकते हैं, और दूसरा तरीका है कि डेबिट कार्ड का इस्तेमाल आप ऑनलाइन करें यदि आप ऑनलाइन खरीदारी करते हैं, अपना सिम कार्ड रिचार्ज करते हैं या किसी भी प्रकार का ऑनलाइन कार्य करते हैं जिसने पेमेंट की जरूरत पड़ती है, तो आप अपने डेबिट कार्ड के जरिए पेमेंट कर सकते हैं और यह राशि आपके बैंक अकाउंट से काटी जाएगी जो कि आपके उस डेबिट कार्ड से लिंक होगी।

बैंक से डेबिट कार्ड प्राप्त करने के लिए सबसे जरूरी क्या है

यदि आपके पास डेबिट कार्ड नहीं है लेकिन आपके पास बैंक अकाउंट है तो आपको डेबिट कार्ड मिल सकता है, लेकिन यदि आपके पास बैंक अकाउंट नहीं है तो सबसे पहले आपको एक बैंक अकाउंट खुलवाना होगा, यदि आपके पास बैंक अकाउंट है तो अपनी बैंक ब्रांच जाएं और एटीएम कार्ड के लिए एक एप्लीकेशन लिख कर ब्रांच कर्मचारी को दे दें, और वह आपके अकाउंट के लिए एटीएम कार्ड जारी करने के लिए अप्लाई कर देंगे, और यदि आपके पास नेट बैंकिंग है तो आप खुद भी एटीएम के लिए अप्लाई कर सकते हैं एटीएम कार्ड के आवेदन के 20 से 30 दिन के बीच में आपको आपका डेबिट कार्ड मिल जाएगा, जिसके लिए आपको अपने बैंक ब्रांच विजिट करना होगा।

Debit card kitne prakar ke hote hain

डेबिट कार्ड के कोई निश्चित प्रकार नहीं होते हैं क्योंकि सभी बैंक अपनी सहूलियत और सुविधा के अनुसार कई प्रकार के डेबिट कार्ड प्रोवाइड करते हैं, और इनकी संख्या सभी बैंकों में अलग अलग रहती है लेकिन कुछ मुख्य प्रकार के डेबिट कार्ड के नाम निम्नलिखित हैं।

  • RuPay debit card
  • Visa debit card
  • Master debit card
  • Maestro debit card

ऊपर दी हुई डेबिट कार्ड की लिस्ट में कुछ मुख्य डेबिट कार्ड के प्रकार हैं जोकि सभी बैंकों के मुख्य डेबिट कार्ड होते हैं, और डिफ़ॉल्ट रूप से सभी बैंक अकाउंट होल्डर के लिए बैंक द्वारा rupay, visa या फिर मास्टरकार्ड ही जारी किया जाता है।

नोट : कोई भी बैंक किसी भी तरह की डेबिट कार्ड की जानकारी हासिल करने के लिए कभी भी कॉल या मैसेज नहीं करता है, यदि आपके पास अभी कोई ऐसा कॉल आता है जिसमें आपका कोई बैंकिंग डिटेल मांगा जाता है, तो कभी भी उसे शेयर ना करें क्योंकि वह कोई फ्रॉड कॉल हो सकता है, और यदि आप अपनी जानकारी शेयर करते हैं तो आपका बैंक अकाउंट खाली हो सकता है।

इस लेख से आपको जानकारी मिली Debit card kya hai और Debit card meaning in Hindi हमें उम्मीद है कि ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।