कंप्यूटर और लैपटॉप में क्या अंतर है, Difference between computer and laptop

लैपटॉप और कंप्यूटर दोनों की कार्य करने का प्रिंसिपल एक ही होता है जो कार्य आप कंप्यूटर पर कर सकते हैं, वह आप लैपटॉप पर भी कर सकते हैं, लेकिन एक कंप्यूटर और लैपटॉप की स्पीड और अन्य सभी सुविधाओं में परिवर्तन हो सकता है, और हर व्यक्ति के लिए कंप्यूटर भी उचित नहीं हो सकता है और हर व्यक्ति के लिए लैपटॉप भी उचित नहीं हो सकता है तो सबसे पहले आपको यह सुनिश्चित करना है, कि आप किस उद्देश्य के लिए कंप्यूटर का लैपटॉप खरीदना चाहते हैं और आप के लिए क्या उचित रहेगा। Computer aur laptop me kya antar hai।

Computer aur laptop me kya antar hai in Hindi

कार्य करने की पद्धति

कंप्यूटर और लैपटॉप दोनों की कार्य करने की पद्धति एक ही होती है आप जिन ऑपरेटिंग सिस्टम और सॉफ्टवेयर्स का इस्तेमाल कंप्यूटर में कर सकते हैं, उसका इस्तेमाल लैपटॉप में भी कर सकते हैं दोनों के इंटरनल फीचर्स और इंटरफेस एक समान होते हैं और उन्हें कस्टमर और मैनेज करने के तरीके भी एक समान होते हैं, और मुख्य रूप से यह ऑपरेटिंग सिस्टम पर निर्भर करता है यदि आप अपने कंप्यूटर पर windows10 इस्तेमाल करते हैं, और अपने लैपटॉप पर भी windows10 इस्तेमाल करते हैं तो आपको दोनों में एक समान फीचर्स और इंटरफेस मिलेंगे।

हार्डवेयर

लैपटॉप के सभी हार्डवेयर जैसे की माउस कीबोर्ड मॉनिटर इत्यादि लैपटॉप में अटैच्ड रहते हैं, जबकि कंप्यूटर में सभी पार्ट अलग-अलग रहते हैं, जोकि है कीबोर्ड, माउस, सीपीयू, मॉनिटर, यूपीएस इत्यादि।

एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाना

निश्चित रूप से लैपटॉप को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाना बहुत ही ज्यादा आसान होता है, जबकि एक कंप्यूटर को संभालना बहुत ज्यादा हार्ड होता है क्योंकि लैपटॉप बहुत पतला और हल्का होता है, जोकि आसानी से manage किया जा सकता है जबकि एक कंप्यूटर मैं कई अलग-अलग डिवाइस होते हैं, जिससे इसका साइज का भी ज्यादा बड़ा हो जाता है जिस वजह से कंप्यूटर को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने और सेट करने में अधिक समस्या हो सकती है, यदि आप अपने घर पर ही कंप्यूटर का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो भी आपको अपने कंप्यूटर को एक निश्चित स्थान पर रखना होगा तो ही आप कार्य कर पाएंगे, और यदि आप अपने रूम से कंप्यूटर को उठाकर किसी दूसरे रूम इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको अपना पूरा सेटअप अलग करना होगा, और उठाकर उस दूसरे रूम में ले जाना होगा और फिर से उसे इंस्टॉल करके स्टार्ट करना होगा, और यदि ऐसा एक बार करना हो तो किया जा सकता है लेकिन ऐसा बार-बार करना मुश्किल है, जबकि एक लैपटॉप को कभी भी कहीं भी कैसे भी कंडीशन में लेकर जाया जा सकता है, लैपटॉप को आप बस, ट्रेन, कार, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड इत्यादि सभी जगहों पर इस्तेमाल कर सकते हैं जबकि एक कंप्यूटर को सिर्फ कुछ निश्चित जगह पर इस्तेमाल किया जा सकता है, जैसे कि ऑफिस या आपका रूम इत्यादि।

पावर सप्लाई

एक कंप्यूटर और लैपटॉप की कार्य करने के लिए जो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण चीज होती है वह है पावर सप्लाई और लैपटॉप बहुत ही कम पावर पर कार्य करता है, और इसमें एक बेहतर बैकअप के साथ बैटरी भी मिलती है जो कि इलेक्ट्रिसिटी ना होने पर भी अब अपने लैपटॉप को इस्तेमाल कर सकते हैं, जबकि कंप्यूटर में पावर सप्लाई की बहुत बड़ी समस्या होती है और यदि पावर कट होता है तो कंप्यूटर तुरंत ही स्विच ऑफ हो जाता है, जबकि लैपटॉप पावर ग्रिड की वजह से बिल्कुल भी प्रभावित नहीं होता है, और इलेक्ट्रिसिटी ना होने पर भी एक लैपटॉप को लगभग 3 घंटे तक आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है।

स्पीड

स्पीड मुख्य रूप से इस बात पर निर्भर करती है कि आप कैसा कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदते हैं, और कितना इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं आप जितना अधिक इन्वेस्टमेंट करेंगे उतना ही फास्ट कंप्यूटर या लैपटॉप आपको मिलेगा, लेकिन एक कंप्यूटर को कभी भी हाइयर हार्डवेयर में अपग्रेड करके स्पीड को बढ़ाया जा सकता है, जबकि लैपटॉप में ऐसा नहीं है और यदि आपको बहुत हाई स्पीड की जरूरत है तो आपको कंप्यूटर के बारे में विचार करना चाहिए।

अपग्रेडेशन

यदि आपके पास कोई लैपटॉप होता है और आप उसकी स्क्रीन को बदलकर बड़ी स्क्रीन इस्तेमाल करना चाहते हैं, या फिर कोई अन्य हार्ड वेयर को ज्यादा बेहतर हार्डवेयर में अपग्रेड करना चाहते हैं, तो ऐसा मुश्किल हो जाता है क्योंकि लैपटॉप बहुत पतला और छोटे साइज में होता है, जिसमें सभी प्रकार के हार्डवेयर के लिए एक निश्चित स्लॉट या स्थान दिया जाता है और इनकी इंस्टॉलेशन पिन एक्सरसाइज की होती है, जिस वजह से लैपटॉप में सिर्फ उस हार्डवेयर के लिए कंपैटिबल हार्डवेयर इस्तेमाल किया जा सकता है, जबकि एक कंप्यूटर कि किसी भी हार्डवेयर को कभी भी अपग्रेड किया जा सकता है, फिर चाहे उसका मॉनिटर छोटे से बड़े बड़े से छोटे साइज में बदलना हो या फिर हार्ड डिस्क मदरबोर्ड इत्यादि मनचाहे हिसाब से उसे कस्टमाइज कर सकते हैं।

कीमत

यदि आप सेम हार्डवेयर का कंप्यूटर और लैपटॉप खरीदते हैं तो आपको कंप्यूटर सस्ता पड़ेगा, जबकि लैपटॉप महंगा पड़ेगा

रिपेयरिंग

एक लैपटॉप को रिपेयर करना और उसके पार्टी को खरीदना ज्यादा हार्ड रहता है जिसकी एक कंप्यूटर को रिपेयर करवाना, और उसके बाद को खरीदना आसान रहता है यहां तक कि कंप्यूटर के हार्डवेयर को खोलना और उसे रिपेयर करना आसान होता है, जबकि लैपटॉप में थोड़ा हार्ड रहता है

Laptop aur desktop me kya antar hai

लैपटॉप और डेस्कटॉप में वही अंतर है जो कि लैपटॉप और कंप्यूटर में है, क्योंकि डेस्कटॉप वर्जन को ही कप्यूटर कहा जाता है।

इस लेख में आपने सीखा Laptop aur computer me kya antar hai और Laptop aur computer me kya behtar hai हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।