एप्लीकेशन कैसे लिखें, application kaise likha jata hai

एप्लीकेशन एक महत्वपूर्ण आवेदन पत्र होता है जिसका इस्तेमाल किसी कार्य को करवाने के लिए लिखित में दिया जाता है, और सभी प्रकार की एप्लीकेशन को लिखने का पैटर्न में एक ही रहता है बस आपको उस अनुसार एप्लीकेशन लिखना होता है, जिस कार्य के लिए आप एप्लीकेशन लिख रहे हैं और किसके लिए लिख रहे हैं, इत्यादि सारी बातों को ध्यान में रख कर उस एप्लीकेशन को लिखना होता है, फिर चाहे आप अपने स्कूल के लिए एप्लीकेशन लिख रहे हो, या फिर बैंक के लिए एप्लीकेशन लिख रहे हो या अन्य किसी सरकारी अधिकारी को एप्लीकेशन लिख रहे हो। Application kaise likhe।

Application kaise likhte hain

आप एप्लीकेशन को 8 भागों में डिवाइड कर सकते हैं जिनमें से सबसे पहला भाग होता है, अभिवादन, उसके बाद आपको उस अधिकारी और उसका पता डालना होगा, जिसे आप एप्लीकेशन लिखना चाहते हैं, ठीक उसके नीचे आप वैसे डाल सकते हैं, कि आप किस बारे में एप्लीकेशन लिख रहे हैं।

उसके बाद फिर से एक बार अभिवादन और फिर पैराग्राफ स्टार्ट होगा जिसमें आपको उस बारे में बताना होगा, जो आप उस एप्लीकेशन के माध्यम से कहना चाहते हैं, और कुछ पैराग्राफ के बाद एक लाइन अलग से लिखना होगा, जिसमें आपको उस एप्लीकेशन में बताए गए कार्य को करने के लिए रिक्वेस्ट करना होगा, और धन्यवाद देना होगा।

लास्ट में दाहिने साइड में आपको अपना नाम पता मोबाइल नंबर इत्यादि जानकारियां डाली होंगी, और उसके ठीक नहीं चाहिए आपको अपना सिग्नेचर करना होगा।

अपने नाम के ठीक लेफ्ट साइड में डेट डाल सकते हैं जिस दिन आप उस एप्लीकेशन को दे रहे हैं।

School ko chhutti ke liye application kaise likhe

सेवा में,

श्रीमान प्रधानाध्यापक, बेनी माधव इंटर कॉलेज महुली भखरी सुल्तानपुर

विषय – 2 दिन की छुट्टी हेतु

मान्यवर,

सविनय विनम्र निवेदन है कि कल रात्रि से मुझे अधिक तेज बुखार होने की वजह से मैं स्कूल आने में असमर्थ हूं, और डॉक्टर द्वारा मुझे सुझाव दिया गया है कि कम से कम 2 दिन रेस्ट करना होगा, जिस वजह से मैं स्कूल आने में असमर्थ हूं।

अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि मुझे 2 दिन (date – ) की छुट्टी प्रदान करने का कष्ट करें, आपकी अति कृपा होगी।

आपका आज्ञाकारी शिष्य

नाम –

क्लास –

एप्लीकेशन लिखने का पैटर्न यही रहेगा, बस आपको अपने पद और जरूरत के हिसाब से इसको कस्टमाइज कर लेना है, जैसे कि इस में श्रीमान प्रधानाध्यापक और स्कूल का नाम दिया गया है तो इसे आप अपने स्कूल के नाम से बदल दें, और अंत में दिया हुआ नाम तिथि इत्यादि जानकारियां भी अपनी जानकारियों से बदल दे, और इसमें दिया हुआ कारण भी आप अपनी स्थितियों के हिसाब से बदल सकते हैं, जैसे कि इस आर्टिकल में ऊपर छुट्टी का कारण बुखार बताया गया है यदि आप को बुखार है तो आप बुखार ही लिख सकते हैं, अन्यथा आप किस वजह से छुट्टी लेना चाहते हैं उसे लिख सकते हैं, जैसे कि कहीं आपको चोट लग गई है या आप अन्य किसी तरह से बीमार हो गए हैं आप उसे बता सकते हैं एप्लीकेशन में।

और यदि आप एक एम्पलाई हैं और किसी कंपनी में कार्य करते हैं आपको छुट्टी चाहिए, जिसके लिए एप्लीकेशन लिखना चाहते हैं तो उसके लिए भी आपको यही पैटर्न में फॉलो करना होगा, बस श्रीमान प्रधानाचार्य के स्थान पर आपको अपने सीनियर के पद का नाम लिखना होगा, जिसे आप एप्लीकेशन देना चाहते हैं और एड्रेस में आपको अपनी कंपनी का पता डालना होगा।

और वह पैराग्राफ जिसमें वो कारण बताया गया है कि किस वजह से छुट्टी चाहिए वह भी पूरी तरह से बदल जाएगा, क्योंकि आप किसी कंपनी में कार्य करते हैं और किसके लिए छुट्टी जाते हैं, वह आप अपने हिसाब से लिख सकते हैं और लास्ट में अपना नाम मोबाइल नंबर और आईडी नंबर जो कि आपके कंपनी द्वारा इश्यू किया जाता है, इत्यादि जानकारियां डाल सकते हैं उसपर आपका सिग्नेचर भी होजा जरूरी है।

Bank ko application kaise likhe

बैंक को एप्लीकेशन लिखने के लिए भी आपको ठीक सी प्रोसेस को फॉलो करना होगा।

सेवा में,

श्रीमान शाखा प्रबंधक, बैंक ऑफ बड़ौदा इसौली

विषय – एटीएम कार्ड का आवेदन

मान्यवर,

सविनय विनम्र निवेदन यह है कि मुझे अपने बैंक अकाउंट में लेनदेन के दौरान अक्सर समस्याओं का सामना करना पड़ता है, क्योंकि किसी भी लेनदेन की जानकारी मुझे मेरे मोबाइल नंबर पर नहीं मिलती है, और मैं ऑनलाइन बैंकिंग का इस्तेमाल भी नहीं कर पाता हूं जिस वजह से मैं अपने अकाउंट (A/C no. ************) में अपना मोबाइल नंबर (Mobile no. **********) लिंक करवाना चाहता हूं।

अतः आप मेरे बैंक अकाउंट में मेरा मोबाइल नंबर लिंक करने का कष्ट करें, आपकी अति कृपा होगी।

आपके बैंक का खाताधारक

नाम –

मोबाइल नंबर –

अकाउंट नंबर –

यहां अपना सिग्नेचर करें

Police ko application kaise likhe

ऊपर बताए अनुसार एप्लीकेशन लिखें बस पैराग्राफ में अपनी समस्या बताएं, की आप पुलिस से क्या मदद चाहते हैं।

Vidhayak ko application kaise likhe

ऊपर बताए अनुसार एप्लीकेशन लिखें बस पैराग्राफ में अपनी समस्या बताएं, की आप उन्हें क्यों एप्लीकेशन लिख रहे हैं और आप उनसे क्या मदद चाहते हैं।

टीसी के लिए एप्लीकेशन कैसे लिखें

ऊपर बताए अनुसार एप्लीकेशन लिखें बस पैराग्राफ में लिखें, की आपको अपने अगले क्लास में रजिस्ट्रेशन के लिए टीसी की आवश्यकता है।

English me application kaise likhe

इंग्लिश में भी एप्लीकेशन लिखने के लिए प्रक्रिया ठीक उसी प्रकार रहेगी जैसा कि ऊपर हिंदी के लिए बताया गया है, लेकिन यदि आप इंग्लिश में एप्लीकेशन लिखना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने किसी करीबी व्यक्ति से मदद ले सकते हैं, जिससे इंग्लिश का ज्ञान हो या फिर आप चाहे तो इंटरनेट का इस्तेमाल करके भी इंग्लिश में एप्लीकेशन लिख सकते हैं, इसके लिए आप चाहे तो गूगल ट्रांसलेटर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बस आपको अपना एप्लीकेशन गूगल ट्रांसलेट में हिंदी में लिखना है और ट्रांसलेशन लैंग्वेज इंग्लिश सेलेक्ट करना है, आपका एप्लीकेशन हिंदी से इंग्लिश में ट्रांसलेट हो जाएगा उसे आप अपनी कॉपी में लिख सकते हैं।

लेकिन यदि आपने अपनी कॉपी में हिंदी में एप्लीकेशन लिखा है और आप उसे इंग्लिश में ट्रांसलेट करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको फिर से अपने मोबाइल में टाइप करने की जरूरत नहीं पड़ेगी, बल्कि आप गूगल ट्रांसलेट कैमरा का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसके लिए गूगल ट्रांसलेट में जाकर कैमरा ट्रांसलेट पर क्लिक करना होगा, उसके बाद अपने कॉपी की उस पेज को स्कैन करें जिसे आप ट्रांसलेट करना चाहते हैं, गूगल ट्रांसलेट ऑटोमेटिक पूरे पेज को ट्रांसलेट कर देगा जिसे आप अपनी कॉपी में लिख सकते हैं।

एप्लीकेशन को लिखने के पैटर्न को समझें

यदि आपको अलग-अलग एप्लीकेशन लिखने के लिए समस्याओं का सामना करना पड़ता है, तो आपको एक बार एप्लीकेशन को लिखने के पैदल को समझना चाहिए, जिसके बाद आप किसी भी टॉपिक पर एप्लीकेशन लिख पाएंगे, क्योंकि एप्लीकेशन लिखने का पैटर्न हमेशा एक रहता है बस आप किस लिए एप्लीकेशन लिख रहे हैं, और किसको लिख रहे हैं इस स्थिति को देखते हुए एप्लीकेशन मैं उचित शब्दों को जोड़ना होता है।

पहला पॉइंट – इसमें आपको अभिवादन शब्द जोड़ना होता है फिर चाहे आप किसी भी कार्य के लिए एप्लीकेशन लिख रहे हो या किसी भी व्यक्ति को प्लीकेशन देना, आपका एप्लीकेशन सेवा में से स्टार्ट होगा, जो कि एक कामा के साथ बंद हो जाएगा।

दूसरा पॉइंट – इसमें आपको उस व्यक्ति कंपनी और पता डालना होता है जिसे आप एप्लीकेशन देना चाहते हैं, और इस पॉइंट को आगे का कुछ हिस्सा छोड़ कर लिखना होता है, यानी की जितने स्पेस में आपने अभिवादन शब्द लिखा है आगे का हिस्सा छोड़कर दूसरा पॉइंट लिखें।

तीसरा पॉइंट – इस पॉइंट में आपको वैसे लिखना होता है कि आपने यह एप्लीकेशन किस लिए लिखा है, जैसे कि एटीएम जारी करने के लिए या फिर छुट्टी के लिए इत्यादि।

चौथा पॉइंट – इस पॉइंट में आपको फिर से अभिवादन शब्द लिखना है जिसमें आप मान्यवर लिख सकते हैं, और यह भी एक कामा के साथ बंद हो जाएगा, फिर आप किससे एप्लीकेशन लिख रहे हैं यह बिल्कुल भी मैटर नहीं करता है।

पांचवा पॉइंट – अब एक पूरा पैराग्राफ होगा जिसमें आप उस बारे में बताएंगे जिस लिए आप एप्लीकेशन लिख रहे हैं जैसे कि यदि आप छुट्टी के लिए लिख रहे हैं, तो उसमें बताएं कि आपको छुट्टी की क्यों जरूरत है और कितने दिन की आज छुट्टी चाहते हैं, या फिर आप किस कारण से एप्लीकेशन लिख रहे हो बस आपको वहां कारण इस पैराग्राफ में बताना है।

छठा पॉइंट – इस पॉइंट में आपको प्रार्थना करना होता है यानी कि अतः दो दिन की छुट्टी देने का कष्ट करें, आपकी अति कृपा होगी या हमारे बैंक अकाउंट से हमारा मोबाइल नंबर लिंक करने का कष्ट करें आपकी अति कृपा होगी, इत्यादि आपने जिस भी कार्य के लिए एप्लीकेशन लिखा है उस बारे में रिक्वेस्ट करें, ये सिंपल से एक लाइन में पूरा हो जाता है।

सातवां पॉइंट – इसने आपको तिथि डालनी होगी जो कि बाय साइड में होगी और आपको वह तिथि डालनी होगी, जिस दिन आप एप्लीकेशन दे रहे हैं

आठवां पॉइंट – ये सबसे अंतिम और महत्वपूर्ण पॉइंट होता है जिसमें आपको अपनी पर्सनल जानकारियां डालनी होती हैं, जैसे की नाम, मोबाइल नंबर, क्लास, आईडी/अकाउंट नंबर, सिग्नेचर इत्यादि।

इस लेख में आपने सीखा application kaise likhe और Application likhne ka tareeka हमें उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।